बालकीर्ति, दिल्‍ली, भारत

विज्ञानकथा लेखन में नया किन्तु चर्चित नाम। ‘बाईस्कोप’ नामक विज्ञानकथा पर चार महत्वपूर्ण पुरस्कार प्राप्त हुए हैं। देश की विभिन्न पत्रिकाओं में कहानियां प्रकाशित और चर्चित हुई हैं। आप दिल्ली में रहती हैं।

डॉ. अरविंद दुबे, उत्‍तरप्रदेश, भारत

विगत चार दशकों से विज्ञान लेखन में सक्रिय। किंग जार्ज मेडीकल कॉलेज, लखनऊ से एमबीबीएस और बाद में डीसीएच तथा एमडी की उपाधि प्राप्त की। संचार भारती के दृश्य-श्रव्य माध्यमों के लिए आपने कई डाक्यूमेंट्री, विज्ञान वार्ताएँ, विज्ञान नाटक, विज्ञान धारावाहिक आदि का लेखन किया जिसके लिए आपको कई महत्वपूर्ण सम्मानों से सम्मानित किया गया। अब तक हिन्दी और अंग्रेजी में आपकी छह पुस्तकें प्रकाशित हुई हैं।

वन्दना शुक्ला, मध्‍यप्रदेश, भारत

वंदना शुक्ला का विज्ञान, समाज और डिग्निटी ऑफ लेबर पर बड़ा काम। विज्ञान में स्नातक हिन्दी साहित्य एवं संगीत में स्नातकोत्तर | बी.एड. शोध | साहित्य कथा में भी आपका उल्लेखनीय योगदान। देशभर के पत्र-पत्रिकाओं में प्रकाशित। चार कथा संग्रह | एक उपन्यास | एक कथेतर गद्य पर पुस्तक प्रकाशित | कहानियों का अंग्रेजी, चीनी, स्पेनिश भाषाओं में अनुवाद | ग्वालियर में वंदना को संगीत और साहित्य के संस्कार अपने परिवार से मिले।